आज देश में वायु प्रदूषण के अहम समस्या बनी हुई है, जिसको रोकने के लिए हर प्रदेश सरकार द्वारा तथा सरकार द्वारा बहुत सी कोशिशों को किया जा रहा है, तथा इसी क्रम को और भी मजबूत बनाते हुए राजस्थान सरकार द्वारा Rajsthan kusum Yojana की शुरुआत की गयी है,

जिसके अंतर्गत सिंचाई करने के लिए उपयोग में लाय जाने डीजल तथा पेट्रोल से चलने वाले पम्पों को सौर ऊर्जा पम्पों में परिवर्तित किया जायेगा यानि वे किसान सौर ऊर्जा के माध्यम से अपने खेतों की सिंचाई कर पाएंगे।

राजस्थान कुसुम योजना की शुरुआत प्रदेश के किसानों को लाभ प्रदान करने के लिए की गयी है, जिसके अंतर्गत अगले 10 वर्षों में 17.5 लाख डीजल पम्पों तथा 3 करोड़ खेती उपयोगी पम्पों को सोरल पम्पों में परिवर्तित करने का लक्ष्य तय किया गया।

 अगर आप इस योजना के तहत मान्य होते हो तो केंद्र सरकार द्वारा 60% तथा राज्य सरकार द्वारा 30% सौर पंप की कुल राशि का भुगतान किया जाएगा तथा कुल लागत के 10% का भुगतान आपको स्वयं करना होगा।

सोलर पैनल लगाने से अतिरिक्त बिजली बनेगी जिससे किसान सरकारी या गैर सरकारी विभागों को बेस सकता है तथा एक माह में ₹6000 तक की राशि प्राप्त कर सकता है।

 इसके लिए आपको सबसे पहले विभाग की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा। आप चाहें तो लिंक पर क्लिक कर करके http://rreclmis.energy.rajasthan.gov.in/kusum.aspxडायरेक्टिव आपकी ऑफिस की वेबसाइट पर जा सकते हैं।

अब आपको आवेदन फॉर्म खुलेगा जिसमे पूछी गयी सभी जानकारी को भरकर सबमिट करना होगा। इस तरह से आपका राजस्थान कुसुम योजना  हो जायेगा।

राजस्थान कुसुम योजना जानकारी के लिए नीचे लिंक पर क्लिक करें?