सिम को हिंदी में क्या कहते है? | SIM Full Form In Hindi

SIM Full Form In Hindi :- आज लगभग देश का हर नागरिक मोबाइल का यूज़ करता है चाहे वह एंड्रोइड हो, ISO हो या कोई बिना मल्टीमीडिया मोबाइल हो। लेकिन हर Mobile में SIM का Use किया जाता है। क्योंकि जिस प्रकार बिना पानी के मनुष्य का जीवन अधूरा है उसी प्रकार बिना SIM के मोबाइल भी अधूरा है क्योंकि मोबाइल का विशेष रूप से उपयोग किसी व्यक्ति से बात करने या इंटरनेट चलाने में किया जाता है और बिना SIM ये बिल्कुल भी अनिश्चित है।

लेकिन क्या आप जानते है कि SIM की Full Form क्या होती है या SIM का अविष्कार किसने किया। अगर नहीं! तो आर्टिकल में अंत तक ध्यानपूर्वक पढ़े। क्योंकि हम आपके साथ इस लेख के माध्यम से SIM से जुड़ी बहुत सी महत्वपूर्ण जानकारी को साझा करेंगे। तो चलिए शुरू करते है –

SIM क्या होती है? | What Is Sim

SIM Full Form In Hindi

SIM (Subscribe Identity Module) एक प्लास्टिक चिप होती है। जिसका Use Mobile Phones, Wifi आदि में किया जाता है जिसकी मदद से हम Internet चला सकते है और किसी व्यक्ति से बात कर सकते है तथा हर SIM User के लिए कंपनी द्वारा एक Unique Nunber प्रदान किया जाता है।

जिसको डाइल करके कोई भी व्यक्ति आपसे कॉन्टेक्ट कर सकता है इसलिए अलावा आपको बता दें कि SIM में थोड़ी मेमोरी भी उपलब्ध होती है जिसमें आप ऑलमोस्ट 250 Numbers को Save कर सकते है।

सिम को हिंदी में क्या कहते है? | Meaning Of Sim In Hindi

सिम को हिंदी में क्या कहते है? यह आज हर उस यूजर का सवाल बन चुका है जो मोबाइल का इस्तेमाल करता है। अक्सर इस बारे में कई जगह एक दूसरे से प्रश्न भी पूछे जाते है। इस बात को ध्यान में रखते हुए आज हम आपको नीचे Sim का पूरा नाम और सिम को हिंदी के क्या कहते है इसके बारे में बताने जा रहे है।

एचसीएल क्या है? | एचसीएल का पूरा नाम क्या है?

SIM Full Form In Hindi

सिम (सब्सक्राइब आइडेंटिटी मॉड्यूल)

SIM Full Form In Hindi

SIM (Subscribe Identity Module)

सिम को हिंदी में क्या कहते है?

सिम को हिंदी में उपभोक्ता इकाई पहचान पत्र

SIM का अविष्कार किसने किया

हर व्यक्ति SIM का Use करता है लेकिन क्या आप जानते है कि SIM का अविष्कार किसने किया। अगर नहीं! तो बता दें कि SIM का अविष्कार सबसे पहले 1991 में Giesecke & Devrient द्वारा किया गया था। जिनके द्वारा सर्वप्रथम केवल 300 SIM Card बनाया था जिसके बाद सिम कार्ड को उन्होंने फ़िनलैंड की वायरलेस नेटवर्क ऑपरेटिंग कंपनी रेडिओलिंजा को बेच दिया था।

SIM कितने प्रकार की होती है?

अगर आप SIM के बारे में पड़ रहे है तो आपको बता दें कि SIM के भी प्रकार होते है और ये मुख्य रूप से दो होते है। जिनके बारे में हमारे द्वारा नीचे एक – एक करके बताया गया है जो कि निम्नवत है –

1. GSM (Global System For Mobile Networks)

आज के समय में अधिकर Mobile User द्वारा GSM SIM कार्ड का उपयोग किया जा रहा है क्योंकि अन्य SIM Card की अपेक्षा ज्यादा उपयोगी है क्योंकि अगर कहीं आपका मोबाइल डेथ हो जाता है या अन्य खराब हो जाता है और आप किसी विशेष व्यक्ति से काल करके बात करना चाहते है।

लेकिन उसका मोबाइल नंबर भी आपको याद नहीं है तो ऐसी स्थिति में GSM SIM कार्ड को अपने मोबाइल से निकालकर अन्य मोबाइल में डाल सकते है तथा Number को निकालर उससे कांटेक्ट निकाल सकते है।

2. CDMA

CDMA SIM Card का Use GSM SIM Card की अपेक्षा कम किया जाता है क्योंकि इस प्रकार की SIM का केवल एक विशेष प्रकार की डिवाइसों में किया जाता है। जैसे – आज से कुछ Jio Phone बहुत चर्चे में रहा था।

जिसकी कीमत मात्र 1500 रुपये तथा ये Fully Smart Phone था। लेकिन इसमें केवल CDMA का use होता है जो Jio Phone के साथ आती थी। इसके अलावा अगर आप किसी अन्य टेलीकॉम कंपनी जैसे – आईडिया, वोडाफोन, एयरटेल आदि का उपयोग इसमें नहीं कर सकते है।

सिम कहाँ से लें?

SIM की खरीददारी आप आपने नज़दीकी किसी भी Mobile Shop से कर सकते है जिसके लिए दुकानदार आपसे ID Proof मांगे तथा उस Id में कई age 18 वर्ष होनी चाहिए। तभी दुकानदार द्वारा आपको SIM प्रदान की जाएगी।

SIM बहुत सी कंपनी जैसे – आइडिया, एयरटेल, वोडाफोन, BSNL, Jio आदि की मार्किट में उपलब्ध है इसलिए आप उसी सिम को लें जो आपके क्षेत्र में बेहतर Network प्रदान करती है।

SIM Releted FAQ

वैसे हमारे द्वारा SIM से रिलेटेड अधिक से अधिक सवालों के जबाबों को इस आर्टिकल में देने की कोशिश की। लेकिन अभी भी SIM से संबधित बहुत से ऐसे सवाल है, जो रीडर्स द्वारा हमसे Comment Box में पूछे जाते है।

इसलिए उचित जानकारी हेतु हमने सिम से संबधित कुछ सवाल तथा उनके जबाबों को नीचे साझा किया है। जो कि निम्न है –

सबसे पहला मैसेज कब भेजा गया?

1993 में पहला टेक्स्ट मैसेज एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति को भेजा गया था।

पहला ESIM दुनिया के सामने कब पेश किया गया?

पहला ESIM दुनिया के सामने 2013 में पेश किया गया।

पहला नैनो सिम कब लांच किया गया?

पहला नैनो सिम 2012 में लांच किया गया।

निष्कर्ष 

तो दोस्तों! आज हमारे द्वारा आर्टिकल में बतायी गयी SIM Card से संबधित इंफोर्मेशम कैसी लगी कमेंट बॉक्स में कमेंट करके बातये और अगर आप अच्छी लगी तो इसे अन्य परिचित लोगों या दोस्तों के साथ शेयर करें। जो टेक्नोलॉजी से संबंधित जानकारी को जानने में इंटरेस्ट रखते है।

Leave a Comment

BasGuide We would like to show you notifications for the latest news and updates.
Dismiss
Allow Notifications