पीएनआर की फुल फॉर्म क्या है? पीएनआर नंबर से टिकट कैसे निकाले?

नई जानकारी लेकर हम हाजिर एक बार फिर से Basguide.com मैं जैसा की आप लोगों को पता ही है। यहां पर हम आपके लिए बहुत सारी नई-नई जानकारी और फुल फॉर्म लेकर आते हैं। तो आज हम बात करने वाले हैं। PNR Full Form, पीएनआर फुल फॉर्म इन हिंदी, PNR Full Form क्या है? पीएनआर क्या है? पीएनआर का पूरा नाम और हिंदी में उसका मतलब क्या होता है? ऐसे ही बहुत सारे सवालों के आपको इस पोस्ट में जवाब मिल जाएंगे।

PNR FULL FORM IN HINDI –

अगर आप भी सोच रहे पीएनआर फुल फॉर्म हिंदी में क्या होता है। या फिर पीएनआर का अंग्रेजी में फुल फॉर्म क्या होता है तो आपको यहां पर हम बता रहे हैं।


✔️PNR Full Form In English

P – Passenger

N – Name

R – Record


PNR Full Form In Hindi

PNR – यात्री का नाम रिकॉर्ड


अब आपको पीएनआर का अंग्रेजी में और हिंदी में दोनों मतलब पता चल गए होंगे। अब इसके बारे में थोड़ा जान लेते हैं आखिर यह क्या है PNR

PNR Kya Hota Hai?

PNR एक Save किया हुआ डाटा है। जो कि कंप्यूटर में रिकॉर्ड किया हुआ होता है। इसका आमतौर से इस्तेमाल रेल्वे या फिर एयरलाइंस के द्वारा प्रवास करने वाले यात्रियों का रिकॉर्ड को स्टोरेज करने के लिए किया जाता है। जो व्यक्ति उस में सफर करते हैं।

उनकी व्यक्तिगत जानकारी जैसे कि – उनका नाम पता उम्र फोन नंबर जाने का समय आदि रिकॉर्ड करके रखा जाता है।

अगर आपके मन में सवाल आ रहा है PNR Code कहां पर होता है। तो आपको बता दें, PNR Code आपके पास जो भी टिकट होता है। उसके ऊपर के बाएं कोने में लिखा होता है। जो कि 10 अंकों का एक कोड होता है।

Paseenger Name Record नाम देखकर ही आपको पता चल जाता है। कि यह यात्रा की जानकारी रखने वाला शब्द है।

PNR Full Form In Hindi | PNR में कौन कौन सी जानकारी मिल सकती है?

अगर आपका यह सवाल है। तो इसका जवाब है। अगर आप

  1. Travel कर रहे हैं तो आप की जानकारी
  2. आपने Travel कहां से शुरू किया है।
  3. Travel कहा तक करने वाले हैं।
  4. आपसे Travel के दौरान कितना शुल्क लिया जा रहा है।
  5. आपकी Travel टिकट कंफर्म है भी या नहीं।

PNR स्टेटस कैसे चेक करें? पीएनआर नंबर से टिकट कैसे निकाले?

बहुत सारे लोगों को पता नहीं होता PNR जांच कैसे करें तो इसके लिए हम आपको कुछ नीचे तरीके बताए गए है –

PNR Satus SMS द्वारा कैसे चेक करें?

PNR की जांच आप SMS के तरीके से भी कर सकते हैं। जिसके लिए आपको नीचे बताये जा रहे तरीके को फॉलो करना होगा –

  • Send SMS: PNR <10 digit PNR Number> to 54959
  • Send SMS: PNR <10 digit PNR Number> to 139
  • Send SMS: PNR <10 digit PNR Number> to 57886
  • Send SMS: PNR <10 digit PNR Number> to 5676747

PNR Number Kaise Pata Kare?

आप PNR की जांच ऑनलाइन वेबसाइट में जाकर भी कर सकते हैं। जिसकी जानकारी आपको नीचे दी गई है –

  • वेबसाइट पर पहुंचने के पश्चात Enter PNR Number ऑप्शन में आपको अपने PNR Number Enter करना है।
  • और इसके बाद अब सबमिट पर क्लिक करके अपने PNR Number सबमिट कर दीजिये। जिसके बाद आपको आपके के बारे में सभी जानकारी स्क्रीन पर दिखाई जाएगी। जिसे आप प्रिंट करके भी रख सकतें हैं।
  • एक और तरीका पीएनआर की जांच आप मोबाइल एप्लीकेशन डाउनलोड करके भी कर सकते हैं।
  • और आखिर में पीएनआर की जानकारी रेलवे स्टेशन या फिर जांच ब्रांच अकाउंटन के पास जाकर भी जांच कर सकते हैं।

सीट की उपलब्धता के अनुसार PNR STATUS यह मुख्य तीन प्रकार के होते हैं|

1. CONFIRMED
2. WAITING LIST
3. RAC (RESERVATION AGAINST CANCELLATION)

PNR Status में शो होने वाले वर्ड्स की फुल फॉर्म –

CNF / ConfirmedConfirmed (Coach/Berth number will be available after chart preparation)
RACReservation against cancellation
WLWaiting List Number
GNWLGeneral Wait List
RLWLRemote Location Wait List
PQWLPooled Quota Wait List

PNR Ke Fayde Kya Hai?

अब आपको PNR Full Form हिंदी ओर इंग्लिश मै समझ आ गया होगा। अब आपके मन में सवाल होगा इसका आखिर फायदा क्या होता है? तो इसका फायदा यह होता है – पीएनआर नंबर के मदद से आप अपनी सीट के बारे में सारी जानकारी ले सकते हैं।
उदाहरण के लिए बता दे –

  • 10 अंक के पैसेंजर नेम रिकॉर्ड(PNR) एक यूनिक नंबर होता है जिसमें यात्री की पूरी डिटेल छुपी होती है, जिस से पता लगा सकते हैं कि आपका टिकट कंफर्म हुआ है कि नहीं|

Bank मे पैसे ट्रान्सफर करने के 5 Best money Transfer Apps (2020)

PNR के बारे में अन्य आवश्यक जानकारी –

  • मुंबई पीआरएस के तहत CR,WR और WCR जोन आते हैं| इसका PNR 8 & 9 से शुरू होता है| मान लीजिए राजधानी एक्सप्रेस में कोई टिकट मुंबई से दिल्ली की बुक हुई है जिसका स्टार्टिंग स्टेशन मुंबई है तो PNR 8 से सुरू होगा।
  • PNR शुरू की 3 डिजिट बताती है कि किस PRS (पैसेंजर रिजर्वेशन सिस्टम, कृष द्वारा डेवलप किया गया) से टिकट बुक हुई है। 3 डिजिट से यह पता चलता है कि पैसेंजर का रिजर्वेशन किस जोन से हुआ है।
  • PNR की अगली 7 डिजिट पैसेंजर से जुड़ी तमाम जानकारियां छुपी होती है। इसमें ट्रेन नंबर डेट ऑफ जर्नी, डिस्टेंस के साथ ही जर्नी करने वाले की एडल्ट एवं चिल्ड्रेन की डिटेल होती है। अगर मान लीजिए आपका टिकट कंफर्म नहीं हुआ परेशान है कि कैसे चेक करें कि मेरा टिकट कंफर्म हुआ है कि नहीं तो आप परेशान ना हो इंटरनेट पर चेक कर सकते हैं ऑनलाइन कि मेरा टिकट कंफर्म हुआ है कि नहीं।
  • पीएनआर की मदद से हवाई यात्रा या फिर ट्रेन की यात्रा करने वाली व्यक्ति की पहचान बहुत ही आसानी से हो जाती है। टिकट की बुकिंग करते वक्त थी यह अनिवार्य हो जाता है। की यात्री ने बुकिंग करने के वक्त कौन कौन से दस्तावेज दिए हैं। ताकि उसकी पहचान बाद में हो सके।

Conclusion –

यहां पर हमने आपको और जानकारी बताइ हैं। अगर आपको दी ही हुई जानकारी में कोई भी सवाल है। तो आप हमें कमेंट करके पूछ सकते हैं।

साथ ही अगर आपको यह जानकारी पसंद आती है। तो आप अपने दोस्तों के साथ Facebook पर भी शेयर करें। ताकि उनको भी कुछ नई जानकारी मिल सके।

Leave a Comment