OPD Full Form In Hindi – ओ.पी.डी क्या होता है, ओपीडी का मतलब हिंदी में

एक बार फिर से हम आप के लिए नई जानकारी लेकर हाजिर है। जैसा कि हम आपके लिए हर बार कुछ ना कुछ नई और मजेदार जानकारी लाते हैं। उसी तरह आज हम OPD Full Form, OPD क्या है, OPD क्या काम करता है, OPD क्यों जरूरी है, और OPD के क्या-क्या फायदे है, यह सब की जानकारी इस आर्टिकल में जानेंगे।

आर्टिकल को अंत तक पढ़े ताकि आपको पूरी जान की जानकारी मिल सके और आपसे कोई भी चीज ना छूटे।


OPD FULL FORM – ओपीडी का मतलब क्या है?

✔️OPD Full Form in English

O – OUT

P – PATIENT

D – DEPARTMENT


✔️OPD Full Form in Hindi

OPD – वाह्य रोगी विभाग


OPD KYA HAI – OPD क्या है?

ऊपर हमने आपको OPD Full Form बताया है। अब सवाल यह है कि ओपीडी क्या है? तो आपको बता दें –

दुनिया में ऐसा कोई इंसान नहीं है जिसने अस्पताल का मुंह नहीं देखा हो। बीमारियों के दिनों में रोगियों को जब अस्पताल के विभाग में लेकर उपचार किया जाता है। जहां पर उन्हें अस्पताल में भर्ती करने की कोई जरूरत नहीं होती है।

यहां पर डॉक्टर सिर्फ सलाह देने का काम करते हैं। और मरीज के लक्षण के आधार पर उनकी बीमारियों का पता भी लगा लेते हैं। और जब जरूरत हो तभी उन्हें अस्पताल में भर्ती होने की सलाह देते हैं। इसको ओपीडी कहा जाता है।

Benefits Of OPD – क्या फायदे हैं OPD के

ओपीडी आपको हर हस्पताल में तो नहीं मिलती है लेकिन हां बहुत सारी अस्पताल में ओपीडी उपलब्ध होती है अब जानते हैं क्यों जरूरी है ओपीडी तो नीचे आप देख सकते हैं।

  • अगर अस्पताल बहुत बड़ा है या फिर कई मंजिला इमारत है तो उस अस्पताल में ओपीडी पहले तल पर होती है जिससे मरीजों को ऊपर जाने की तकलीफ ना उठानी पड़े।
  • विकलांग मरीज या फिर वृद्ध मरीजों के लिए व्हीलचेयर या फिर रैंप की भी व्यवस्था की जाती है।
  • ओपीडी तल पर डॉक्टर के कक्ष होते हैं जिन से मरीज आंखों के, दातों के। गले का, आदि रोगों की डॉक्टर के साथ परामर्श कर सकते हैं।
  • सबसे खास बात यह कि ओपीडी में काउंटर पर ही रजिस्ट्रेशन किया जाता है ताकि मरीज को रजिस्ट्रेशन कराकर उसकी बारी का इंतजार करने के लिए बताया जाता है।

OPD के काम – OPD WORK

ओपीडी उन रोगियों को निदान और देखभाल करता है। जिनमें रात भर हस्पताल में रहने की कोई भी आवश्यकता नहीं होती है। ओपीडी विभाग अस्पताल का एक महत्वपूर्ण हिस्सा होता है।

यह आमतौर से रोगियों की सेवा के लिए होता है। जिसे सलाहकार चिकित्सा द्वारा आयोजित किया जाता है। इन विभाग में कई रोगियों की जांच की जाती है। और अस्पताल में भर्ती होने से पहले भी बाहरी रोगियों के रूप में उपचार कर दिया जाता है।

क्या होती हैं बच्चों की OPD – What Is Children OPD

अगर देखा जाए तो बच्चों की ओपीडी अलग-अलग अस्पताल में अलग-अलग होती है। लेकिन ओपीडी में बाल मरीजों का रजिस्ट्रेशन और उपचार किया जाता है।

इस बाल ओपीडी में छोटे बच्चों के लिए रोग विशेषज्ञ डॉक्टरों का अलग गट होता है। जो कि बच्चों के लिए बनाया गया होता है।

OPD कि India में हालत

मरीजों का अस्पताल में सबसे ज्यादा ध्यान ओपीडी पर रोता है। कोई हॉस्पिटल तो ओपीडी की वजह से ही बहुत ज्यादा फेमस हुए होते हैं।

वहां पर ऐसे मरीज पहुंचते हैं, जो कि अधिक खर्चा नहीं कर पाते।अधिकतर सरकारी अस्पतालों का ही रुख करते हैं।

अगर बात की जाए ओपीडी की इंडिया में क्या हालत है। तो अपने देश में स्वास्थ्य से लेकर अस्पतालों में सुविधा ठीक-ठाक है।

लेकिन अभी भी गांव में अस्पतालों का हाल बुरा है। कई जगह तो प्राथमिक केंद्र की सुविधा भी अभी भी मौजूद नहीं है। ऐसे में छोटी मोटी दिक्कत तो के लिए गांव के लोगों को शहर जाकर अपना इलाज करवाना पड़ता है।

पहाड़ों और आदिवासी इलाकों में तो हालत इससे भी ज्यादा गंभीर है। सरकार को गाव और पहाड़ी इलाकों में ज्यादा ध्यान देने की जरूरत है़

Conclusion

यहां पर हमने आपको OPD Full Form Hindi or English, ओपीडी क्या है, ओपीडी क्या काम करता है, और ओपीडी के फायदे बताएं है।

अगर आपको बताई गई जानकारी में कोई भी सवाल है। तो आप हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूछ सकते हैं। आप अपने दोस्तों को यह आर्टिकल शेयर करें। ताकि उन्हें भी ओपीडी के बारे में ज्यादा से ज्यादा जानकारी हो सके।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here